फिल्म प्रमोशन के लिए अक्षय कुमार को मुगलों पर टिप्पणी करना पड़ा - SAMACHAR GYAN फिल्म प्रमोशन के लिए अक्षय कुमार को मुगलों पर टिप्पणी करना पड़ा - SAMACHAR GYAN

फिल्म प्रमोशन के लिए अक्षय कुमार को मुगलों पर टिप्पणी करना पड़ा

नई दिल्ली,। अक्षय कुमार के फैन्स की उनकी फिल्म सम्राट पृथ्वीराज का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। इस फिल्म में अक्षय कुमार ने 12वीं सदी के हिन्दू राजा पृथ्वीराज चौहान के किरदार निभाया हैं। फिल्म 3 जून यानी इसी शुक्रवार को सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है। फिल्म में अक्षय कुमार के अलावा पूर्व मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर, सोनू सूद और संजय दत्त लीड में हैं। सुपरस्टार अक्षय कुमार इन दिनों सम्राट पृथ्वीराज के जोरदार प्रमोशन में लगे हैं। इसे लेकर वो कई तरफ के बायन भी दे रहे। अपने एक ऐसे ही बयान के चक्कर में अक्षय ट्रोल्स का शिकार भी बन गए।

खिलाड़ी कुमार को अब उनके हालिया बयान के लिए ट्रोल किया जा रहा है जिसमें उन्होंने कहा कि इतिहास की पाठ्यपुस्तकें मुगल आक्रमणकारियों पर जानकारी से भरी हैं, लेकिन पृथ्वीराज चौहान और महाराणा प्रताप जैसे राजाओं की महिमा और वीरता के बारे में बात नहीं करते हैं। अक्षय को अब ट्विटर पर बेरहमी से ट्रोल किया जा रहा है, जहां नेटिज़न्स अभिनेता को एनसीईआरटी की किताबें पढ़ने के सलाह दे रहे हैं।

एएनआई से बात करते हुए, अभिनेता ने कहा, दुर्भाग्य से, हमारे इतिहास की पाठ्यपुस्तकों में सम्राट पृथ्वीराज चौहान के बारे में केवल 2-3 पंक्तियां ही हैं, लेकिन आक्रमणकारियों के बारे में बहुत कुछ उल्लेख किया गया है। हमारी संस्कृति और हमारे महाराजाओं के बारे में शायद ही कुछ भी उल्लेख किया गया हो। कोई भी नहीं है। मैं शिक्षा मंत्री से इस मामले को देखने और देखने के लिए अपील करना चाहता हूं कि क्या हम इसे संतुलित कर सकते हैं। हमें मुगलों के बारे में पता होना चाहिए लेकिन हमारे राजाओं के बारे में भी पता होना चाहिए, वे भी महान थे।

उनके इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्विटर पर एक्टर को ट्रोल करना शुरू कर दिया। एक नेटिज़न ने लिखा, “स्पष्ट रूप से @akshaykumar भारत में कभी स्कूल नहीं गए या एनसीईआरटी की पाठ्यपुस्तकों से पठाई नहीं की। उन्हें आरएसएस की शाखाओं में पढ़ाया गया होगा।” एक अन्य ट्विटर यूजर ने ट्वीट किया, “मुझे लगता है कि उन्हें एनसीईआरटी की इतिहास की किताबें पढ़ने की जरूरत है, खासकर कक्षा 7।

एक अन्य ट्वीट में कहा गया, एनसीईआरटी में पृथ्वीराज चौहान पर सातवीं कक्षा में एक पूरा अध्याय है। कई अन्य भारतीय राजाओं की तरह, जिनके बारे में हमने स्कूल में पढ़ा है। एनसीईआरटी की इतिहास की किताबों पर एक सरसरी नजर डालने से आपको उन तथ्यों को पहचानने में मदद मिल सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.