Gyanvapi Masjid: आज सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई पर सबकी निगाहें, जुमे की नमाज को देखते हुए यूपी में हाईअलर्ट - SAMACHAR GYAN Gyanvapi Masjid: आज सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई पर सबकी निगाहें, जुमे की नमाज को देखते हुए यूपी में हाईअलर्ट - SAMACHAR GYAN

Gyanvapi Masjid: आज सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई पर सबकी निगाहें, जुमे की नमाज को देखते हुए यूपी में हाईअलर्ट

ज्ञानवापी मस्जिद विवाद के मद्देनजर शुक्रवार को जुमे की नमाज को लेकर मुस्लिम इलाकों में ज्यादा सुरक्षा रहेगी. साथ ही जुलूस और जलसे पर रोक लगा दी गई है. वाराणसी में विशेष सतर्कता बरती जा रही है. प्रयागराज में पुलिस ने धर्मगुरुओं संग बैठक कर शांति व्यवस्था की अपील की है. साथ ही लखनऊ में मुस्लिम स्कॉलर मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने भी लोगों से अपील की है कि जुमे की नमाज शांति से अदा करें

लखनऊ. ज्ञानवापी मस्जिद- श्रृंगार गौरी विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार तीन बजे सुनवाई करेगा. मस्जिद परिसर की सर्वे रिपोर्ट सामने आने के बाद सुप्रीम कोर्ट में आज होने वाली सुनवाई पर सभी की निगाहें टिकीं हुई है. इस बीच प्रदेश सरकार ने आज जुमे की नमाज को देखते हुए अधिकारियों को हाई अलर्ट पर रहने को कहा गया है. लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज, कानपुर, अलीगढ़, आगरा समेत तमाम जिलों में विशेष ऐहतियात बरतने और सोशल मीडिया पर किसी भी तरह की अफवाह न फैले इसके निर्देश दिए गए हैं. ज्ञानवापी मस्जिद विवाद के मद्देनजर शुक्रवार को जुमे की नमाज को लेकर मुस्लिम इलाकों में ज्यादा सुरक्षा रहेगी. साथ ही जुलूस और जलसे पर रोक लगा दी गई है. वाराणसी में विशेष सतर्कता बरती जा रही है. प्रयागराज में पुलिस ने धर्मगुरुओं संग बैठक कर शांति व्यवस्था की अपील की है. साथ ही लखनऊ में मुस्लिम स्कॉलर मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने भी लोगों से अपील की है कि जुमे की नमाज शांति से अदा करें. किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें. ज्ञानवापी मामला कोर्ट में है और जो फैसला अदालत करेगी उसका सभी सम्मान करेंगे. बता दें कि काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद विवाद मामले में दाखिल याचिकाओं पर इलाहाबाद हाईकोर्ट में भी शुक्रवार को अहम सुनवाई होगी. जस्टिस प्रकाश पाडिया की सिंगल बेंच दोपहर 12 बजे सुनवाई शुरू करेगी. आज की सुनवाई में स्वयंभू भगवान विशेश्वर यानी हिंदू पक्ष की ओर से सबसे पहले दलीलें पेश की जाएंगी. पिछली सुनवाई पर हिंदू पक्ष की बहस पूरी नहीं हो सकी थी. सबसे पहले हिंदू पक्ष अपनी बची हुई बहस पूरी करेगा. उसके बाद दोनों मुस्लिम पक्षकार अपनी दलीलें पेश करेंगे. अदालत को यह तय करना है कि 31 साल पहले 1991 में वाराणसी जिला कोर्ट में दायर वाद की सुनवाई हो सकती है या नहीं.

ज्ञानवापी केस: इलाहाबाद हाईकोर्ट में हिंदू पक्ष ने पूरी की बहस, 6 जुलाई को होगी अगली सुनवाई

प्रयागराज. काशी विश्वनाथ मंदिर-ज्ञानवापी मस्जिद विवाद केस की सुनवाई शुक्रवार को दोपहर 12 बजे के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) में शुरू हुई. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने हिंदू पक्ष की बहस पूरी होने के बाद 6 जुलाई को अगली सुनवाई की तिथि दे दी है. हिंदू पक्ष की ओर से दलील पेश की गई. हाईकोर्ट के जस्टिस प्रकाश पाडिया की बेंच में मामले की सुनवाई हुई. सबसे पहले हिंदू पक्ष अपनी बची हुई बहस पूरी की. स्वयंभू भगवान विश्वेश्वर पक्षकार की तरफ से उनके वाद मित्र विजय शंकर रस्तोगी बहस की. हिंदू पक्ष की बहस पूरी होने के बाद यूपी सुन्नी सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड के अधिवक्ता पुनीत गुप्ता ने भी बहस की. लेकिन, हिंदू पक्ष की ओर से बहस पूरी होने के बाद कोर्ट ने अगली तारीख का निर्धारण कर दिया.

ज्ञानवापी परिसर कमिशन रिपोर्ट पेश होने के बाद जिले में अलर्ट

वाराणसी: ज्ञानवापी परिसर कमिशन रिपोर्ट पेश होने के बाद जिले में अलर्ट. पुलिस प्रशासन ने की लोगों से शांति और सद्भाव की अपील. चौक सहित कई संवेदनशील क्षेत्रों मे गस्त करते दिखे पुलिस अधिकारी. आज जुमे की नमाज भी होगी अदा. प्रशासन ने किए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम. वाराणसी पुलिस कमिश्नर का दिशा-निर्देश- प्रबुद्धजनों के साथ अधिकारी करें बैठक. ज्ञानवापी सर्वे मामले को लेकर देश की नजर काशी पर. सालों से विवादों मे रहने वाला यह मामला बना और भी संवेदनशील.

Gyanvapi Case:वजू के लिए जिला प्रशासन ने किया पानी का इंतजाम

वाराणसी. ज्ञानवापी पर सुनवाई के बीच जिला अधिकारी ने वजू के लिए पानी का इंतजाम . दो ड्रम पानी और पचास लोटे रखे जायेंगे ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर, ताकि नमाज़ी वजू कर सकें. जिला अधिकारी ने सील किए हुए वजू खाने की जगह को सुरक्षित रखे जाने पर दिया जोर. धार्मिक नेताओं और धर्म गुरुओं से की शांति और सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाए रखने की अपील. शुक्रवार को नमाज के लिए आज फिर ज्ञानवापी में भीड़ जुटने का अंदेशा. सुरक्षा को लेकर देर रात शहर के कई हिस्सों में पुलिस ने किया मार्च. पुलिस कमिश्नर ने सुरक्षा व्यवस्था को लेकर को पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक.

Leave a Reply

Your email address will not be published.